पुणे का चाय बेचने वाला (Navnath Yewale) कमाता है 12 लाख रुपए महीना (Yewale Amruttulya Story)

पुणे का चाय बेचने वाला (नवनाथ येवले) कमाता है 12 लाख रूपया महीना – येवले टी हाउस  (Yewale Amruttulya Tea)

दोस्तों,
आज मैं आपके सामने एक बहुत ही Interesting Story Share करने जा रहा हूँ, Navnath Yewale’s Amruttulya Tea जो आपको खुद का अपना बिज़नेस शुरू करने के लिए भी प्रेरित करेगी।
तो चलिए शुरू करते है।  
 
 
भारत जैसे विकासशील देश में जंहा हर एक माता-पिता चाहते है की उनकी संतान अच्छे से पढ़ लिख कर डॉक्टर, इंजीनियर, वकील या चार्टर्ड अकाउंटेंट बन कर एक अच्छी सी नौकरी करे और सेटल हो जाए।
 
 
लेकिन अब विद्यार्थियों की सोच बढ़ रही है , इंजीनियर और डॉक्टर की पढाई करने के बावजूद बच्चे अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहते है। चाहे वह बिज़नेस चाय बनाने का ही क्यों ना हो।
 
 
ऐसी ही एक अनोखी कहानी है पुणे के रहने वाले नवनाथ येवले (Navnath Yewle) की जो चाय बेच कर हर महीने का 12 लाख रुपये से ज्यादा कमाते है ,, चौंक गए ना !! जी हां ये बिलकुल सत्य है.
 
“नवनाथ येवले” जो पुणे में रहते है और अपनी अच्छी खासी पढाई के बावजूद और अच्छी इनकम वाली नौकरी को छोड़कर चाय बेचने का बिज़नेस शुरू किया। उनकी चाय की स्टाल का नाम है – “Yewale Chaha (Yewale Amrittulya)
 
चाय जैसा पेय प्रोडक्ट भारत में बहुत फेमस है।  हर एक व्यक्ति को चाय की लत सी लगी है। 80 – 90 % लोग सुबह उठते ही चाय पीते है। सुबह हो या शाम, घर हो या ऑफिस, अपने दोस्तों के साथ हो या रिश्तेदारों के साथ, चाय पीना तो सभी को पसंद है।
 
औसतन हर एक व्यक्ति दिन भर में 3 से 4 कप चाय तो पी ही जाता है। 
 
नवनाथ ने चाय के इस बेहतरीन बिज़नेस को पहचाना।  उन्होंने देखा की यूँ तो चाय की कई सारी दुकाने है लेकिन वहा पर्याप्त साफसफाई और एक अच्छा सा टेस्ट नहीं है।
 
ये सब देखते हुए उन्होंने अपनी जमा पूंजी को इस चाय के बिज़नेस में लगाया और अपने भाइयो के साथ शुरू किया अपना स्टार्टअप। इनका चाय का ये बिज़नेस होम डिलीवरी के कारण पुणे में काफी चर्चा और शोर में है।
 

Navnath Yewale Success Story in Hindi

चाय का ये बिज़नेस आज उनको 12 लाख रुपये हर महीना कमा के देता है जो की एक IIT और IIM ग्रेजुएट को पुरे साल भर नहीं मिलता। नवनाथ येवले जी  वार्षिक टर्नओवर 1.5 करोड़ रुपये के लगभग है। 

 

Navnath Yewale Success Story in Hindi Safalta ki kahani. Yewale Tea House, Yewale Amruttulya
Navnath Yewale Success Story in Hindi ; Image SourceFacebook  
 
ये भी जरूर पढ़े :-

Yewale Amruttulya की शुरुआत 

येवले परिवार की जड़े जुड़ी है Pune जिले के Purandar तहसील के एक छोटे गांव आसकरवाड़ी (Askarwadi) से। चाय के इस बिज़नेस का असल श्रेय जाता है नवनाथ येवले (Navnath Yewale) के पिताजी श्री दशरथ भैरु येवले (Late Shri Dashrath Bhairu Yewale) को जिनका शुरूआती धंधा था अपनी दो भैंसो का दूध बेचना लेकिन प्रतिदिन कुछ मात्रा में दूध बच जाया करता था तो इन्होने सोचा क्यों न चाय की कोई स्टाल लगाईं जाये। 

शुरुआती दिनों में कई चाय की दूकान पर काम किया और साल 1983 में अपने एक मित्र के साथ खुद की चाय की दूकान खोली।  नाम रखा – Ganesh Amruttulya (गणेश अमृततुल्य) . बिज़नेस अच्छा चला,  देखते देखते धंधा अच्छा चलने लगा। 

2001 में दशरथ येवले जी के इस दुनिया से जाने के बाद फॅमिली में चर्चा शुरू हुई की क्या बिज़नेस किया जाय।  बहुत कुछ सोचने के बाद दूसरे धंधे में भी हाथ आजमाया किन्तु अंत में सोचा की जड़ो की तरफ लौटना चाहिए ,

जब हमारा शुरूआती बिज़नेस ही चाय का था तो चाय की कोई शॉप खोलना चाहिए। 

उन्होंने देखा की पुणे शहर में खाने की कई सारी दुकाने और वडेवाला ब्रांड है जैसे रोहित वडेवाला और जोशी वडेवाला लेकिन चाय की कोई अच्छी सी दुकान नहीं है। 

तो चाय के बिज़नेस को करने का मन बनाया। 

पहले मार्किट रिसर्च किया , कई सारे लोगो से मिले , बहुत से tea stall पर चाय को taste किया और अच्छे से स्टडी करने के बाद एक फाइनल प्रोडक्ट पर पहुंचे। 

4 साल के रिसर्च के बाद पानी की गहराई नापने के लिए  पहले तो एक छोटा सा स्टाल खोला, जब Response अच्छा मिला तो अंततः 1 जून 2017 को अपना पहला आउटलेट खोला (at Bharati Vidyapeeth , Katraj) 

येवले अमृततुल्य चहा –  येवले चहा एकदा पिऊन तर पहा 

ये इनकी Tagline है – येवले चहा एकदा पिऊन तर पहा  (मतलब येवले चाय एक बार पी कर तो देखे )

पिता की दी हुई सीख़ हमेशा साथ रही जैसे दूध उच्चतम गुणवत्ता का वापरना, कोई भी पानी की मिलावट न करना, चाय बनाते वक्त कम मात्रा में पानी का प्रयोग करना।   

अंत में चाय का फाइनल प्रोडक्ट तैयार हुआ, एक Perfect taste और perfect time making के साथ। और Punekars के बीच येवले चाय बहोत फेमस हो गई। 

 

Yewale Amruttulya की खासियत 

Yewale Amruttulya के जितने भी आउटलेट है वहां सभी जगह सफ़ेद सिरेमिक के कप में चाय परोसी जाती है।  चाय बनाते वक्त स्पेशल मसाले का प्रयोग किया जाता है जो केवल येवले ब्रांडिंग के अंतर्गत manufacture होता है। 

हर एक आउटलेट पर चाय बनाते वक्त एक टाइमर को लगाया जाता है जैसे दूध को 5 मिनट तक टाइमर लगाकर गर्म करना , जब लास्ट के 2 मिनट बचे तो उसमे येवले के स्पेशल चाय शक्कर डालना , चाय छानने के लिए एक विशेष कपडे का प्रयोग करना और उस कपडे को अच्छे से निचोड़ कर चाय छानना। 

फिरसे 2 मिनट के लिए उस छनी चाय को गर्म करना और फिर पूरी तरीके से तैयार हो जाती है ग्राहकों को गरमागरम चाय सर्व करने के लिए। 

चाय को बनाते वक्त गुणवत्ता में कोई भी समझौता नहीं किया जाता है।  हाइजीनिक तरीके से चाय का निर्माण किया जाता है।  trained workers होते है जो खुद साफ़ सफाई का ध्यान रखते है। 

 

Yewale Amruttulya Menu 

Yewale Amruttulya के हर एक आउटलेट की अपनी एक विशेषता है। यहाँ की शुरुआत 10 रुपये के वाजिब दाम से एक गुणवत्ता पूर्ण चाय से होती है ( येवले चहा फक्त 10 Rs )। 
लेकिन मेन्यू की बात की जाए तो ये है इनका खास मेन्यू 
  • रेगुलर चाय  =  10/-
  • गुड़ चाय  (Jaggery Tea)  =  20/-
  • अदरक चाय (Ginger Tea)  =  20/-
  • Lemon Tea   =  20/-
  • Rose Tea   =  20/-
  • Black Tea   =  20/-
  • Without Sugar Tea   =  20/-
  • Hot Coffee   =  20/-
  • Cold Coffee   =  20/-
  • बादाम दूध   =  20/-
  • हल्दी दूध    =  20/-

इसके साथ हर एक आउटलेट पर Yewale Amruttulya का ही Cream Roll मिलता है वो भी मात्र 10 रुपये की कीमत पर। 

अगर कस्टमर की बात की जाए तो यहाँ के pocket friendly price के कारण हर रोज अलग अलग तबक़े के लोग चाय पीने आते है जैसे  मजदुर वर्ग से लेकर बड़ी कंपनी के सीईओ, Student से लेकर Professional, बच्चो से लेकर बूढ़े लोग , सभी वर्ग के लोग चाय का सेवन करने आते है। 

हर एक ग्राहक पुरे दिन में 2 से 3 बार चाय जरूर पिता है।  

 

Yewale Amruttulya Franchise

अगर आप येवले चाय की फ्रैंचाइज़ी लेना चाहते है तो आप इनकी official site पर जाकर फॉर्म भर सकते है , जहां से उनकी टीम आपको संपर्क करेगी। 
 

Yewale Amruttulya Franchise Cost 

येवले अमृततुल्य की फ्रैंचाइज़ी कॉस्ट है 3 लाख रुपये और इन्वेस्टमेंट का खर्चा है लगभग 13 लाख रुपये। तो मोटा माटी 16 लाख का इन्वेस्टमेंट है और जगह की बात की जाए तो एक ऐसी Prime Location पर दूकान खोलना जहा पर अच्छी खासी भीड़ हो और 250 से 300 स्क्वायर फ़ीट की जगह होनी चाहिए, साथ में दूकान के बहार एक अच्छी स्पेस हो ताकि अच्छे से टेबल लग सके। 

फ्रैंचाइज़ी टर्म 5 साल की रहेगी और 365 दिनों तक दूकान सुबह 5 बजे से 10 बजे तक खुले। 
 
पुणे से शुरू हुआ यह बिज़नेस आज महाराष्ट्र के मुंबई और कई दूसरे राज्य में फ़ैल चूका है जैसे मध्य प्रदेश के इंदौर में छप्पन दूकान तरफ भी इसका एक आउटलेट खुला है। 
 
2017 से शुरू हुआ पुणे का यह चाय का बिज़नेस आज कई शहरो और राज्यों में अपनी पैठ बना चूका है। 
 
दोस्तों यंहा मुझे रईस फिल्म का एक डायलाग याद आता है जिसे शाहरुख़ खान कहते है की –
कोई धंधा छोटा नहीं होता है और धंधे से बड़ा कोई धरम नहीं होता “
 
बिलकुल सही कहा गया है , कोई भी धंधा छोटा मोटा नहीं होता है , केवल मनुष्य की सोच छोटी होती है जो उसे आगे बढ़ने से रोकती है।  इंसान केवल यह सोचता रह जाता है की अगर में ये बिज़नेस शुरू करता हूँ तो लोग क्या कहेंगे।
 
चाय बेचने वाले नवनाथ येवले  तब चर्चा में आये जब माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी रोजगार के विषय में बात कर रहे थे की पकोड़ा बेचना भी एक रोजगार है एक बिज़नेस ही है और प्रधान मंत्री भी खुद को एक चाय बेचने वाला ही बताते है.
 
अब ये बात कितनी सही है ये तो मुझे नहीं पता लेकिन पकोड़े के उलट चाय भी एक बिज़नेस है ये नवनाथ येवले ने सिद्ध कर दिया।
 
ये भी पढ़े :- 
लेकिन नवनाथ येवले (Navnath Yewle) ने ऐसा नहीं सोचा , और समाज की परवाह किये बगैर अपने दिल की सुनी , और शुरू किया अपना चाय का बिज़नेसYewale Amruttulya Tea ” जिसका वार्षिक टर्न ओवर 1.5 करोड़ से ज्यादा है
 
येवले चहा  के फाउंडर Navnath Yewle  कहते है की हमारे चाय के बिज़नेस में डायरेक्टर बॉडी में 4 लोग ओर है (Yewale Brothers ) – गणेश येवले, नीलेश येवले, मंगेश येवले और तेजस येवले।
 
अभी पुणे शहर में हमारे 3 आउटलेट है और हर एक सेंटर पर 12 के करीब लोग काम करते है तो नवनाथ जी अपने इस बिज़नेस से ओर लोगो को भी रोजगार मुहैया करा रहे है आगे इस स्टार्टअप को 100 आउटलेट तक ले जाने की प्लानिंग है और फिर इसे इंटरनेशनल ब्रांड बनाने पर जोर दिया जायेगा।
 
Yewle Tea House Navanath Yewle
Navnath Yewale - Yewale Tea House Owner
Read Also:-

 

Yewale’s Last Message to Youth

सपना देखो और बड़े सपने देखिये क्योकि सपने देखने का कोई पैसा नहीं लगता है लेकिन सपना देखने के बाद अपना Goal Setting भी करे।  साथ में एक अच्छा बिज़नेस को करने के लिए एक अच्छा आईडिया का होना अति आवश्यक है। 

 

Final Words

 
दोस्तों ये देखा गया है की छात्र कई सालो तक अपनी पढाई करता है और जब अपने मन के मुताबिक परिणाम नहीं मिलता है तो कोई गलत कदम उठा लेते है।
 
पढाई करने के बाद सोचते है की किसी मल्टीनेशनल कंपनी में काम करेंगे या कोई अच्छी खासी सरकारी नौकरी करेंगे , लेकिन ध्यान देने वाली बात ये भी है की हर किसी को सरकारी नौकरी नहीं लगती है।
 
खुद का बिज़नेस या स्टार्टअप खोलना भी एक विकल्प है जिसे अपनाया जा सकता है तो कभी हार ना माने , कोशिश करते रहे।
 
मैं आशा करता हूँ की आपको ये कहानी बहुत पसंद आयी होगी और इससे कुछ कर गुजरने की प्रेरणा भी मिली होगी।  मैं ऐसी ही ओर प्रेरणादायक कहानी लाता रहता हूँ जो मनोरंजक के साथ साथ प्रेरणा से भरी होती है।
 
अगर आप चाहते है की हमारी कोई भी कहानी मिस ना करे तो अभी हमें फॉलो कीजिए ताकि आप पढ़ सके हमारी आने वाली हर एक मनोरंजक कहानी और ये बिलकुल फ्री है ।
 
आपका बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद।  आपका दिन शुभ रहे।

FAQs Yewale Amruttulya (Yewale Tea House)

  1. Ques 1: Who is the Owner of Yewale Amruttulya ?

    Ans : “Navnath Yewale (नवनाथ येवले)” जी जो येवले अमृततुल्य के संस्थापक है जिन्होंने अपने 4 भाइयो के साथ ( गणेश येवले, नीलेश येवले, मंगेश येवले और तेजस येवले ) इस चाय के बिज़नेस की शुरुआत की।

  2. Quest 2 : What is the meaning of “Amruttulya” ?

    Ans : अमृततुल्य का मतलब होता है अमृत के समान।

  3. Quest 3 : How can I get Yewale Amruttulya Franchise ?

    Ans : अगर आप येवले चाय की फ्रैंचाइज़ी लेना चाहते है तो आप इनकी official site पर जाकर फॉर्म भर सकते है , जहां से उनकी टीम आपको संपर्क करेगी। 
     



Note:- This Article is in Hindi Language . I Researched a lot and i tried my best to write this article but if you found any grammatical mistake in this article please Cooperate with us, Keep Calm. Keep Support.

 

इस आर्टिकल के लिए अपनी प्रतिक्रिया (Comment) जरूर दे और अपने दोस्तों के साथ इसे जरूर शेयर करे।
ऐसी और कहानी पढ़ने के लिए हमें फॉलो या सब्सक्राइब कीजिए।

 

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.