नमस्कार दोस्तों,

Moral Stories In Hindi :- आज मैं लेकर आया हूँ एक बहुत ही मजेदार और प्रेरणा से भरी हिंदी कहानी Motivational and Moral Stories in Hindi जिसका शीर्षक है Comfort Zone यानि आरामदायक क्षेत्र ।

Moral Stories in Hindi

अगर मैं आपसे पुछु की एक व्यक्ति के सफल और असफल होने की वजह क्या है। तो इसका सीधा सा उत्तर है “कम्फर्ट जोन “।
एक लक्ष्य को पाना कभी सरल नहीं होता है , उसके लिए दिन रात अथक प्रयास करने की जरुरत होती है तब कहीं जाकर वो सफलता हाथ लगती है। Moral Stories in Hindi
किसी ने ठीक ही कहा है की सफलता को पाना कठिन हो सकता है किन्तु असंभव नहीं। अगर वह अपने आराम के क्षेत्र यानि कम्फर्ट जोन  को छोड़कर मेहनत करने लग जाय तो जो भी उसने ठाना है वो उसे पाकर ही रहेगा।
तो आज मैं इस “Hindi Moral Story : Comfort Zone” के अंतर्गत एक बहुत ही छोटी सी कहानी शेयर करने जा रहा हूँ जो आपको बहुत पसंद आएगी , तो इसे अंत तक जरूर पढ़े।

↣ Best Moral Stories in Hindi  

एक बहुत ही खुशहाल राज्य था।  जहाँ के राजा और प्रजा दोनों बहुत खुश थे। वह राज्य दिन प्रतिदिन तरक्की कर रहा था।  कोई छोटा सा किसान हो या बड़ा सा व्यापारी सभी अपने काम काज में मौज थे।

उस खुशहाल राज्य के राजा को बाज पक्षियों को पालने का बहुत शोक था  अपने भरोसेमंद मंत्री को आदेश देकर 2 बाज पक्षी मंगवाए।  आदेश पाकर मंत्री पडोसी के दूसरे राज्य में गया और वहां से 2 बहुत ही खूबसूरत बाज पक्षी को खरीदकर पिंजड़े में ले आया।
दोनों बाज पक्षियों को पाकर राजा बहुत खुश हुआ और दोनों को पिंजड़े से बाहर निकाला। जिसमे से एक बाज पक्षी ने ऊँची उड़ान भरी क्योकि बाज पक्षी अपनी ऊँची उड़ान के लिए जाना जाता है और वंही दूसरा बाज पास ही के एक पेड़ की डगाल ( डाल ) पर बैठ गया।
अगले दिन फिर उन दो बाज पक्षियों में से एक ने बहुत ऊँची उड़ान ली और पुनः राजा के महल में आ गया किन्तु दूसरा बाज अपने स्थान से टस से मस ना हुआ। तीसरे दिन भी ऐसा ही हुआ की पहला बाज पक्षी ऊँची उड़ान भर कर आया किन्तु दूसरा फिरसे अपने स्थान से नहीं हिला।




राजा ने परेशान होकर अपने मंत्री को फिरसे आदेश दिया की जाओ किसी वैद्य या पक्षी विशेषज्ञ को लेकर आओ।  आदेश पाकर मंत्री अपने राज्य और पडोसी राज्य से बहुत सारे जानकार व्यक्तियो को लेकर आया।
सभी ने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की, कोई जंतर मंतर करता तो कोई झाड़ फूंक किन्तु कोई भी उस बाज पक्षी को उड़ाने में सफल नहीं हुआ।
अब राजा बहुत ही परेशान रहने लगे तब राज्य में इनाम को घोषणा कर दी गई थी की अगर कोई व्यक्ति दूसरे बाज को उड़ाने में सफल हुआ तो उसे 100 सोने की अशर्फिया दी जायेगी।
Aap Padh Rahe Hai : “Moral Stories In Hindi : Comfort Zone
जब यह खबर गोपाल नाम के एक साधारण से लक्कड़हारे को पड़ी तो वह राज महल में आया और राजा से आज्ञा लेने लगा।  राजा ने संशय भरी नजरो से देखा और उस लक्कड़हारे को आदेश दिया। अब गोपाल अपने काम पर लग गया।
थोड़ी ही देर बाद राजा क्या देखते है की वह दूसरा बाज बहुत ही ऊँची उड़ान भरने लगा है , पहले वाले बाज से भी कंही ऊँची ज्यादा।  राजा बहुत आश्चर्यचकित हुए की बड़े बड़े विद्वान जो ना कर सके वह काम इस साधारण से दिखने वाले लक्कड़हारे ने कैसे कर दिया।
जब राजा ने उस लक्कड़हारे से पूछा की तुमने ये किया कैसे ?
तब गोपाल ने अपने चहरे पर एक मुस्कान लाते हुए कहा की
“हे राजन ! यह तो बहुत ही सीधा काम था । सबसे पहले मैंने बाज को देखकर ये पता लगाया की ये उड़ क्यों नहीं रहा है। पेड़ की जिस डगाल पर वह बैठा हुआ था वो मैंने काट दी और अब बाज पक्षी के बैठने की जगह ना बची तो वह उड़ने लगा।
राजा ने उसे 100 सोने कि अशर्फिया ली और ख़ुशी ख़ुशी अपने घर चले गया।




इस कहानी “Moral Stories in Hindi  (कम्फर्ट जोन )” से मिली शिक्षा कुछ इस प्रकार है ⟱⟱

✸ शिक्षा  

The Moral Of The Story In Hindi

Moral Of The Hindi Story
इस हिंदी कहानी का सीधा सा मतलब ये था की एक बाज जो की अपनी ऊँची उड़ान भरने के लिए जाना जाता है किन्तु पेड़ की एक डगाल के मोह के कारण वह उड़ नहीं पा रहा था।   हमारी जिंदगी भी कुछ इसी की तरह है।  हमारे अंदर बहुत ही असीमित सम्भावनाओ का सागर भरा पड़ा है , हम जो चाहे कर सकते है और जो चाहे पा सकते है किन्तु हमारे अंदर भी कुछ चीजों का मोह बैठा हुआ है। इस मोह को ही Comfort Zone यानि आरामदायक क्षेत्र कहते है। ठीक उसी प्रकार जिस तरह वह दूसरा बाज बहुत ही ऊँची उड़ान भर सकता है लेकिन पेड़ की वह डगाल को नहीं छोड़ना चाहता है।   हम भी अपने कम्फर्ट जोन को नहीं छोड़ पा रहे है इसीलिए सफलता हाथ नहीं लग रही है। 
ये कहानी जरूर से पढ़े :-

Moral Stories in Hindi

तो दोस्तों कैसी लगी ये कहानी , निचे कमेंट में जरूर बताये।  अपने सभी दोस्तों को इस प्रेरणादायक कहानी को Facebook और Whatsapp पर जरूर शेयर करे।  अगर भविष्य में भी ऐसी ही कहानी पढ़ना चाहते है तो अभी Real_Inspiration_For_U को फॉलो कीजिये।  फॉलो या सब्सक्राइब करने के लिए स्क्रीन के निचे दांयी ओर एक घंटी बानी हुई है उसे बजा दे और Notification Allow कर दे। 
 
मिलते है फिरसे एक नई कहानी को लेकर।  अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद।
 
NOTE :-
I wrote this Article Named ” Moral  Stories In Hindi : Comfort Zone ” in Hindi Language. I researched a lot to write this article. This Story is based on my Internet Research and it is not my Original Content. My Aim is to just provide Motivational and Inspirational Article in very Basic Hindi Language. So if you found any Grammatical Error in this article then please let me know so that i can correct it ASAP. ThankYou