{HINDI} MOTIVATIONAL THOUGHTS IN HINDI FOR STUDENTS || NEVER GIVE UP

{HINDI} MOTIVATIONAL THOUGHTS IN HINDI FOR STUDENTS || NEVER GIVE UP


हैल्लो दोस्तों ,
आप सभी कैसे है , आशा करता हूँ की आप सभी ठीक होंगे। 
जैसा की आप सभी जानते है की गर्मी की छुट्टिया चल रही है और सभी बच्चे अपने अपने हिसाब से अपनी गर्मी की छुट्टियों का आनंद ले रहे है। 

लेकिन जब बात रिजल्ट की आती है तो सभी बच्चे घबरा जाते है , की कहीं फेल ना हो जाए ?
CBSE RESULT भी आने वाला है तो सभी उसकी CBSE Official Site पर जाएंगे और अपना Result Check करेंगे ।  
जो बच्चे अच्छे नंबर से सफल हो जाते है वे अपने आगे के भविष्य की योजना में लग जाते है। 
लेकिन जो बच्चे असफल हो जाते है वे परेशान और निराश हो जाते है किन्तु असफल हुए छात्र निराश न हो क्योकि आगे के जीवन में ऐसी कहीं ज्यादा परीक्षाए आती जाती रहेगी।

MOTIVATIONAL THOUGHTS IN HINDI FOR STUDENTS, NEVER GIVE UP, HINDI
MOTIVATIONAL THOUGHTS IN HINDI FOR STUDENTS NEVER GIVE UP

कुछ बच्चे तो इतने निराश हो जाते है की Suicide तक attempt कर लेते है। पर वे ये क्यों नहीं सोचते की आत्महत्या किसी भी समस्या का हल नहीं है।


हम सभी उस खुदा की मर्जी से इस धरती पर आये है तो उसकी मर्जी के बिना इस धरती से खुद कैसे जा सकते है। 

कुछ बच्चे अवसाद में चले जाते है जैसे उनका सब कुछ खो गया हो। परीक्षा में आये परिणाम से आखिर इतना डरना क्यों ??

जरूर याद रखे ...

   "वो रिजल्ट सिर्फ एक कागज़ का टुकड़ा है। 
        किन्तु तुम अपने माँ-बाप के दिल के टुकड़े हो।।"  

आज मैं आपके साथ कुछ Real Life Success Story शेयर करने जा रहा हूँ।  ये ऐसे छात्र की कहानी है जो शुरुवात में अपनी स्कूली पढाई में असफल हो गए थे किन्तु बाद में अपनी इसी असफलता से सबक लेते हुए वे आगे बड़े और सफलता के चरमोत्कर्ष तक पहुंचे।  तो चलिए शुरू करते है। 



"V NANDA KUMAR (IRS OFFICER) जो की एक स्कूल ड्रॉपआउट थे। इनकी लाइफ काफी दिलचस्प है और काफी उतार चढ़ाव से भरी पड़ी है, जो Never Give Up Attitude को बताता है । 

पढाई में मन ना लगने से इन्होने अपनी पढाई बिच में छोड़ दी , फिर अपनी आजीविका चलाने हेतु एक मैकेनिक शॉप पर एक टेलीविज़न और रेडियो रिपेयर का काम किया, ओर तो ओर इन्होने लाटरी तक बेचीं। 

स्कूल छोड़ने के बाद वे अपने जीवन को अच्छे से जी रहे थे लेकिन जब नन्द कुमार ने देखा की उनके माता-पिता और उनके दोस्त का बर्ताव उनके प्रति कुछ बदल सा गया था, दोस्त लोग नन्द कुमार से दूरिया बनाने लगे थे और ये बात उनको खटक गई।  उन्होंने बात को समझते हुए अपनी पढाई फिर से चालू की। 

लेकिन जब कक्षा 12th का परिणाम आया तो वे काफी निराश हुए क्योकि परिणाम केवल 52 % जो की सेकंड डिवीज़न होता है। 


पर इस असफलता से उन्होंने हार नहीं मानी और आगे स्नातक (Graduation) करने की ठानी लेकिन जब वे किसी कॉलेज में एडमिशन के लिए जाते तो एवरेज स्टूडेंट होने के कारण कोई उनको एडमिशन नहीं देता। 

नन्द कुमार जी ने यहाँ भी हार नहीं मानी और अंततः डॉ भीमराव आर्ट्स & साइंस कॉलेज के English Literature के कोर्स में उनको प्रवेश मिल गया।  एक औसत विद्यार्थी होने के कारण वे English Subject को कवर नहीं कर पा रहे थे लेकिन अपनी मेहनत और जीत के जज्बे के कारण उन्होंने English Subject पर अपनी पारंगत हांसिल की और पुरे कॉलेज में केवल नन्द कुमार ही ऐसे विद्यार्थी थे जिन्हे English Literature में Distinction मिली थी। 

आप पढ़ रहे है "{HINDI} MOTIVATIONAL THOUGHTS IN HINDI FOR STUDENTS || NEVER GIVE UP"


अपनी इसी जीत की लत के कारण सन 1997 में उन्होंने सिविल सर्विसेज (UPSC ) एग्जाम देने का मन बनाया और फिर से अपनी मेहनत के बलबुते उन्हने इस कठिनतम परीक्षा को पास कर आई आर एस अफसर  (IRS Officer) बने।  " 

सोचो दोस्तों अगर वी नन्द कुमार अपनी पहली असफलता से डर जाते है या निराशा और अवसाद में चले जाते तो क्या वो इस बड़ी सफलता (IRS Officer) तक पहुंच पाते ... बिलकुल नहीं , 

ऐसी ही कई और वास्तविक कहानिया भरी पड़ी है जो हमें सिखाती है की असफलता से घबराए ना बल्कि उसका डटकर सामना करे। 

और अंत में APJ Abdul Kalam का एक प्रेरक कथन (Quote

"Sometimes, It's better to BUNK a class
and enjoy with friends because now,
when i look back, MARKS never make
laugh, but memories do"


तो दोस्तों कैसी लगी हमारी ये पोस्ट 
"{HINDI} MOTIVATIONAL THOUGHTS IN HINDI FOR STUDENTS || NEVER GIVE UP" , अपनी प्रतिक्रिया निचे Comment Box में जरूर दे और अपने दोस्तों के साथ इसे जरूर शेयर करे 
       
निचे अपनी राय (COMMENT ) जरूर दे और भी ऐसी Motivational और Inspirational कहानी पढ़ना चाहते है तो इस ब्लॉग को निचे  SUBSCRIBE  करे या FOLLOW  करे ताकि आप पढ़ सके ऐसी प्रेरणादायक और शिक्षाप्रद कहानिया वो भी सब से पहले , और ध्यान रखे SUBSCRIBE  करने या FOLLOW करने का कोई पैसा नहीं लगेगा , तो जल्दी से कीजिए। 
अगर कहानी अच्छी लगी है तो इस कहानी को अपने दोस्तों के साथ Facebook Whatsapp , twtter और Google + पर जरूर शेयर करे

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद।  आपका दिन शुभ रहे।    
     
NOTE :- This Story is in Hindi Language and I researched a lot and tried my Best to write this Article but in case if you found any grammatical mistakes in this Article , you can Comment down below. Please Cooperate with us, Keep Supporting and Keep Reading.
Previous
Next Post »

So, Tell Me What You like most in this Article ?? Comment Below and Don`t Forget to Follow us for More Articles in Future, Take Care. ConversionConversion EmoticonEmoticon